Hierarchical Database Model In Hindi

Hierarchical Database Model In Hindi: इस पोस्ट में हम hierarchical model के बारे में जानेंगे, यह एक डेटाबेस मॉडल है जिसका उपयोग किसी डेटाबेस को बनाने के लिए किया जाता है

hierarchical model को अच्छे से समझने के लिए हमें पता होना चाहिए कि डेटाबेस मॉडल क्या होता है

Hierarchical Database Model को समझने से पहले हमें समझना होगा की डाटा बेस मॉडल क्या होता है

Database Model In Hindi

डेटाबेस मॉडल एक डेटाबेस का तार्किक संरचना (logical structure) होता है, इसे हम एक नियम कहसकते है जो निर्धारित करता हैं कि डेटाबेस में डेटा को कैसे संग्रहीत (store) और एक्सेस कैसे करना है।

मुख्य रूप से डेटाबेस मॉडल तीन प्रकार के होते हैं पहला हिरार्चिकाल डेटाबेस मॉडल दूसरा नेटवर्क मॉडल और तीसरा रिलेशनल डेटाबेस मॉडल आज हम इस लेख में सिर्फ हिरार्चिकाल डेटाबेस मॉडल के बारे में जानेंग

हिरार्चिकाल डेटाबेस मॉडल क्या है?

हिरार्चिकाल मॉडल सबसे पहला डेटाबेस मॉडल है जिसे IBM द्वारा 1950s में डेवलप किया गया है यह मॉडल एक उल्टे पेड़ के समान है

जिस तरह एक पेड़ की रुट (root) होती है उसी तरह हिरार्चिकाल मॉडल की भी एक रुट होती है जहा से डेटाबेस में मौजूद डाटा को एक्सेस करा जा सकता है, जिस तरह पेड़ में नई-नई शाखाएं आती है और वह ऊपर की ओर बढ़ता जाता है उसी तरहजब हिरार्चिकाल मॉडल में जैसे-जैसे नए रिकॉर्ड/डाटा जुड़ते जाते हैं या संग्रहित (store) होते जाते हैं वैसे-वैसे यह हिरार्चिकाल मॉडल भी नीचे की ओर बढ़ता चला जाता है

हिरार्चिकाल डेटाबेस मॉडल में रिकॉर्ड को नोड्स (nodes) कहा जाता है और सभी नोड्स को पैरंट-चाइल्ड रिलेशनशिप (parent-child relation) में अरेंज (arrange) करा जाता है याने इस मॉडल में एक नोड के कई चाइल्ड नोड होसकते हैं पर एक चाइल्ड नोड का केवल एक ही पेरेंट्स नोड होसकता है

हिरार्चिकाल मॉडल के लाभ और हानि: –

हिरार्चिकाल मॉडल के लाभ

हिरार्चिकाल मॉडल के कई सारे लाभ है उनमें से कुछ यह नीचे बताए गए हैं:

  1. हिरार्चिकाल मॉडल एक सिंपल (simple) डेटाबेस मॉडल है
  2. यह डाटा शेयरिंग (data sharing) को सपोर्ट करता है
  3. यह डाटा बेस मॉडल हाई सिक्योरिटी (high security) प्रदान करता है
  4. बड़ी मात्रा में डेटा संग्रहित होने पर भी यह मॉडल अच्छे से और पूरी तरह से काम करता है
  5. यहां डेटाबेस मॉडल पैरंट-चाइल्ड रिलेशन का उपयोग करके डाटा को संग्रहित करता है

हिरार्चिकाल मॉडल की हानि

हिरार्चिकाल मॉडल की कुछ हानि भी है जिनमे से कुछ यहाँ निचेबताई गयी है: –

  1. यह ज्यादा फ्लेक्सिबल (flexible) नहीं होता है
  2. भले ही यह मॉडल अवधारणात्मक रूप से सरल और simple है, लेकिन इसे लागू करना काफी जटिल/कठिन है।
  3. Hierarchical Database Model में इन्सर्ट, अपडेट और डिलीट (insert, update and delete जैसी कार्य को करना काफी कठिन है

यह मॉडल को और अच्छे से समझने के लिए आप यहां सजेस्ट वीडियो (suggested video) देख सकते हैं: –

आशा है इस लेख को पढ़कर आप समझ गए होंगे कि हिरार्चिकाल डेटाबेस मॉडल क्या है और यह किस तरह से डाटा को डेटाबेस में संग्रहित करता है Please हमें कमेंट करके बताएं कि हमारा यह लेख आपको कैसे लगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *