Ram and Rom Difference In Hindi

Computer में दो प्रकार की मेमोरी होती है Primary Memory और Secondary Memory रैम और रोम यह दोनों कंप्यूटर की प्राइमरी मेमोरी होती है. आज हम यही दोनों मेमोरी के बारे में समझेगे और जानेंगे की RAM और ROM मे क्या अंतर  है (What Is Difference Between RAM and ROM In Hindi)

RAM क्या है

रैम कंप्यूटर की एक अस्थायी मेमोरी होती है जिसमे डेटा (Data) तब ही तक संग्रहीत (Stored) होता है जब तक कंप्यूटर चालू है कंप्यूटर के बंद होते ही इस में संग्रहीत डेटा मिट जाता है

ROM क्या है

रोम कंप्यूटर की स्थायी मेमोरी है जिसमे डेटा हमेसा संग्रहीत होता है इस में जो फाइल्स एक बार संग्रहीत की जाती है उससे फिर एडिट (Edit) याने उसमे कोई बदलाव या उससे डिलीट (Delete) नहीं किया जा सकता

ROM में कंप्यूटर को Boot याने कंप्यूटर को चालू करने वाली फाइल्स होती है. ROM में वह Data Files भी होती है जिसकी मदत से कंप्यूटर में सभी Input और Output Device को कंप्यूटर से जोड़ के चलाया जाता है [ कंप्यूटर में जो BIOS File होती है वह भी ROM में संग्रहीत (Stored) होती है जिससे Delete नहीं किया जा सकता ना ही उस Files को Edit किया जा सकता है ]

Ram and Rom difference In Hindi

यह नीचे RAM और ROM के बीच कुछ प्रमुख अंतर बताए गए हैं

अंतररैम (RAM)रोम (ROM)
पूरा नामरैम का पूरा नाम रैंडम एक्सेस मेमोरी (Random Access Memory) हैरोम का पूरा नाम रीड ओनली मेमोरी (Read Only Memory) है
गती(Speed)रैम की गती रोम से बहुत तेज होती हैरोम की गती रैम से धीमी होती है
संग्रहीत डेटाइसमें डेटा अस्थायी (Temporary) रूप से संग्रहीत (Stored) होता हैइसमें डेटा स्थायी (permanent) रूप से संग्रहीत होता है
संचार (communicate)यह मेमोरी सीधा कंप्यूटर के प्रोसेसर (communicate) के साथ संचार करती हैइस मेमोरी में संग्रहीत डेटा पहले रैम में लोड होता है फिर रैम प्रोसेसर तक डेटा को पोहोचता है
काम करने का प्रकाररैम में संग्रहीत डेटा को परिवर्तित और पुनः प्राप्त किया जा सकता हैरोम में संग्रहित डेटा को केवल पढ़ा जा सकता है
इस्तेमालइस मेमोरी का इस्तेमाल डेटा को तेज़ी से कंप्यूटर के प्रोसेसर तक पोहोचने के लिए होता हैइस मेमोरी का उपजोग किसी डेटा को स्थायी रूप से संग्रहीत करने के लिए होता है
क़ीमतरैम रोम के मुकाबले महंगी होती हैरोम रैम से सस्ती होती है
डेटा प्रतिधारणकंप्यूटर में जब तक बिजली मौजूद होती तक ही तक डेटा इस मेमोरी में संग्रहीत होता हैबिजली हो या न हो रोम में डेटा हमेसा संग्रहीत होता है
प्रकारRandom Access Memory) और SRAMरोम चार प्रकार की होती है PROM, EPROM, EEPROM और Mask ROM

RAM और ROM का सारांश (Summary)

RAM और ROM यह दोनों Primary Memory है याने कंप्यूटर की Main Memory बिना किसी एक के कंप्यूटर काम नहीं कर सकता है

RAM में डेटा को Transfer करने की गती बहुत तेज होती है और ROM में Data Transfer की गती बहुत धीमी पर RAM में डेटा को संग्रहीत रखने के लिए RAM में बिजली का होना जरुरी होता है वही ROM में डेटा को संग्रहीत रखने के लिए बिजली की कोई आवश्यकता नहीं होती इसलिए ROM का उपजोग कंप्यूटर में जरुरी Files या Software को हमेसा संग्रहीत रखने के लिए किया जाता है

ROM मे ही कंप्यूटर को Boot करने और चलने वाले Data Files या Software संग्रहीत होते है जो कंप्यूटर के निर्माण के समय कंप्यूटर में डाले जाता है “जैसे BIOS” इन Files को Delete नहीं किया जा सकता ना ही इसमें कोई बदलाव किया सकता है इनहै केवल पड़ा (Read) करा जा सकता है

ROM के Data Transfer Speed धीमी होने के कारण इसमें मौजूद डेटा सिदा Processor के साथ Communicate नहीं करता है पहले RAM उस Data को तेजी से अपने अंदर Lood कर लेता है और फिर तेजी से Processor तक उस Data को पहुंचाया देता है इस तरह यह RAM और ROM दोनों मेमोरी की मदत से कंप्यूटर के प्रोसेसर तक जरुरी डेटा को पहुंचाया जाता है

RAM और ROM को और अच्छे से समझने के लिए आप यह Video देख सकते हो: –

This suggested Video Embedded From Computer Gyan Youtube Channel

Hindiset का यह लेख पढ़ने के लिए आपका शुक्रिया आपके मन में अभी भी कोई सवाल है तो आप कमेंट में  हमसे पूछ सकते हो आपको और यह लेख कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *