Time Table Kaise Banaye – पढ़ाई के लिए टाइम टेबल बनाये

कई बार ऐसा होता है कि आप पढ़ाई करना चाहते हैं लेकिन पढ़ाई करने के लिए आप टाइम नहीं निकाल पाते हैं आपका दिन कुछ और कामों में बित जाता है और जो काम आप करना चाहते है असल में आप उस काम को नहीं कर पाते हैं। इसलिए आप हमेशा से यही कोशिश करते हैं कि आप एक टाइम टेबल बना लें और उस हिसाब से अपने काम करें। ताकि आप अपने सही काम समय पर कर सके और आप उसके अलावा किसी दूसरे काम में अपना दिन ना बिताएं। ऐसे में आपके पास Time Table Kaise Banaye के बारी में जानकारी होनी चाहिए। ताकि आप अपने अनुसार अपना टाइम टेबल बना सके और अपने हर काम को टाइम पर कर सकें। 

आप अपना टाइम टेबल खुद बना सकते हैं तो यह एक अच्छी बात है लेकिन अगर आप ऐसा नहीं कर पाते हैं तो आइए हम आपको बताते है कि आप अपना टाइम टेबल कैसे बना सकते हैं। इसके अलावा आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से यह भी बताएंगे कि आप अपने स्कूल के अलावा पढ़ने का टाइम टेबल कैसे बना सकते हैं और अगर आप दिन भर घर पर रहते हैं तो आप किस तरीके से पढ़ाई कर सकते हैं और अपना टाइम टेबल कैसे बना सकते हैं। तो इस बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए आप हमारे इस आर्टिकल में अंत तक बने रहे। 

टाइम टेबल क्या है 

टाइम टेबल एक समय सारणी होता है जिसके अनुसार हम अपने सारे कार्य करते हैं। हम जैसा टाइम टेबल बनाते हैं हमको उस टाइम टेबल के अनुसार अपने सारे कार्य को करना होता है। हम ऐसा करते हैं तो हम उस टाइम टेबल को फॉलो कर रहे हैं। 

उदाहरण के तौर पर मान लीजिए कि हमने एक समय सारणी बनाई है और उस समय सारणी के अनुसार हमें सुबह 8:00 बजे से लेकर 12:00 बजे तक पढ़ना है। तो हमें किसी भी तरह समय निकालकर 8:00 बजे पढ़ने बैठ जाना है और हमें 12:00 बजे तक पढ़ना है। अगर हम ऐसा करते हैं तो हमें खुद महसूस होता है कि हां हम अपने टाइम टेबल को फॉलो कर रहे हैं और अपने सारे काम टाइम टेबल के अनुसार कर रहे हैं। हम अपने काम को अगर टाइम टेबल के अनुसार करते हैं तो हमारे सारे काम अच्छे से हो जाते हैं और उसके साथ-साथ वह काम समय पर भी हो जाते हैं जिससे हमें किसी भी काम को करने की चिंता नहीं रहती है। हमें पता रहता है कि हमें अपना कौन सा काम कब करना है और उसको कितनी देर में कर लेना है। 

Time Table Kaise Banaye 

अगर आप टाइम टेबल बनाना चाहते हैं लेकिन लाख कोशिश के बावजूद भी आप एक सही टाइम टेबल नहीं बना पा रहे हैं जिसको आप फॉलो कर सके। तो आइए हम आपको नीचे टाइम टेबल बनाने के कुछ तरीके बताते हैं जिसका इस्तेमाल कर आप अपना टाइम टेबल अच्छा से बना सकते हैं और उसे फॉलो कर अपने सारे काम समय अनुसार कर सकते हैं। 

1. सुबह जल्दी उठ 

अगर आप एक अच्छा टाइमटेबल बनाना चाहते हैं जिसका इस्तेमाल कर आप अपने सारे काम को समय पर कर सके। तो इसके लिए आपको सुबह जल्दी उठना होगा क्योंकि आप सुबह जितना जल्दी उठते हैं आपको दिन में उतना ही ज्यादा समय आपके कार्यों के लिए मिलता है। इसलिए आपको सुबह उठना जरूरी है। सुबह उठना जरूरी है इससे हमारे कहने का तात्पर्य है कि आप सुबह 5:00 से 6:00 के बीच में उठ जाए जिससे आपको पूरा दिन काम करने के लिए मिल भी जाएगा और अगर आप सुबह उठते हैं तो आपका शरीर भी स्वस्थ और फ्रेश महसूस करेगा। 

2. सुबह फ्रेश होने के बाद 1 से 2 घंटे पढ़े 

सुबह उठने के बाद जब आप अच्छे से फ्रेश हो जाते हैं तो आप फ्रेश होने के तुरंत बाद एक या डेढ़ घंटे पढ़ाई करें। अगर आप ऐसा करते हैं तो आपको 2 फायदे होते हैं। पहला फायदा आपको यह होता है कि आप अगर कुछ पढ़ कर स्कूल में पढ़ने जाएंगे तो आप स्कूल में सारे क्वेश्चन का आंसर दे सकते हैं और सब लोगों के बीच अपना एक इंप्रेशन जमा सकते हैं। इसके अलावा अगर आप सुबह में पढ़ाई करते हैं तो आप किसी ऐसे सब्जेक्ट का चुनाव करें जिस सब्जेक्ट में आपका मन थोड़ा भी ना लगता हो क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि जिस सब्जेक्ट में हमारा मन नहीं लगता है। हम उस सब्जेक्ट को पढ़ते समय बोरिंग फील करते हैं और पढ़ते पढ़ते सो जाते हैं। ऐसे में अगर हम फ्रेश होकर पढ़ने बैठे तो उस समय हम बोरिंग सब्जेक्ट को भी पढ़ सकते हैं और हमें नींद भी नहीं आएगी। इसलिए आप सुबह फ्रेश होने के बाद ऐसे सब्जेक्ट को पढ़ने बैठे जिसमें आपकी रुचि कम हो। 

3. स्कूल से आने के बाद 1 घंटे खेले या फिर किसी के साथ बात करें 

जब आप स्कूल में जाते हैं तो आप स्कूल में पूरे दिन पढ़ाई करते हैं और पढ़ाई करते करते आपका मन थोड़ा सा उब जाता है। इसलिए जब आप स्कूल से आए तो खाना खाने के बाद कुछ देर के लिए कहीं खेलने चले जाएं या फिर ऐसे लोगों के बीच चले जाएं जहां पर आप मजाक कर सके और थोड़ा हंस सके। अगर आप स्कूल से आने के बाद ऐसी जगह पर जाते हैं तो आपके दिमाग से पढ़ाई का प्रेशर हट जाता है और आप फिर से बढ़िया महसूस करने लगते हैं। जरूरी नहीं कि आप स्कूल से आने के बाद एक घंटा खेले या फिर एक घंटा किसी के साथ बात हीं करें। इसके अलावा आप गाना सुन कर या फिर टीवी देख कर अपने मन को हल्का और शांत कर सकते हैं। 

4. 2 घंटा पढ़ें और स्कूल का सारा काम खत्म करे 

आप जब स्कूल से आते हैं उसके बाद 1 घंटे फ्रेश हो जाते हैं उसके बाद आपको फिर 2 घंटों के लिए पढ़ने बैठ जाना है। इस समय जब आप पढ़ाई करने बैठे तो आप स्कूल में मिले सारे होमवर्क को बना ले और जो याद करने को मिला है उसे याद कर ले। क्योंकि अगर आप ऐसा करते हैं तो आप रात के समय को पूरी तरह से पढ़ाई करने के लिए निकाल सकते हैं और उस दौरान आप किसी इंटरेस्टेड चीज को पढ़ सकते है या फिर आप रात के समय जी के आदि भी पढ़ सकते हैं। इसलिए आप कोशिश करें कि आप को स्कूल से जितने भी होमवर्क बगैरा मिले हैं वह आप इस समय में पूरा कर ले। 

5. रात को 3 घंटे पढ़ाई करें 

जब रात होती है तो सभी लोग पढ़ने बैठते हैं। आप भी रात को 3 घंटे पढ़ने के लिए बैठे। रात को जब आप पढ़ने बैठते हैं तो आपको थोड़ा सा थका थका फील होता है क्योंकि आप दिन भर के कार्यों को करते-करते रात में थक जाते हैं और आपको रात में नींद जैसा फील होने लगता है। इसलिए आप रात में किसी ऐसे सब्जेक्ट को लेकर पढ़ने बैठे जिसमें आपकी रुचि बहुत ज्यादा हो और आप उस सब्जेक्ट को मन लगाकर पढ़ते हैं। क्योंकि अगर आप वैसे सब्जेक्ट को लेकर रात में पढ़ते हैं तो आपको नींद आने के बावजूद भी आप पढ़ेंगे और आप उस सब्जेक्ट में और भी ज्यादा आगे हो जाएंगे। लेकिन इसके बजाय अगर आप किसी बोरिंग सब्जेक्ट को लेकर पढ़ने बैठते हैं जिसमें आपका मन थोड़ा भी ना लगता हो तो आप दिन भर की थकान की वजह से तुरंत सो जाएंगे और आपको पढ़ने का मन नहीं करेगा। इसलिए आप जब भी रात को पढ़ने बैठे तो किसी इंटरेस्टेड सब्जेक्ट को लेकर पढ़ें।  

घर का टाइम टेबल कैसे बनाये

अगर आप घर हमेशा रहते हैं और आप कोई ऐसा टाइम टेबल बनाना चाहते हैं जिसके माध्यम से आप अपना ज्यादा समय पढ़ाई को दे पाए। तो आइए हम आपको नीचे बताते हैं कि आप कैसे अपना टाइम टेबल सेट करेंगे तो आप अपने दिन का ज्यादा भाग पढ़ाई करने में दे पाएंगे। 

1. 2 घंटे पढ़ाई करें 

छुट्टी वाले दिन आप पूरा दिन घर पर रहते हैं और घर के कामों में आप व्यस्त हो जाते हैं जिसके वजह से आप पढ़ाई नहीं कर पाते हैं। इसलिए छुट्टी वाले दिन जब भी आप उठे तो फ्रेश होने के बाद सबसे पहले 2 घंटा पढ़ने बैठ जाए और उसके बाद आप कुछ देर का ब्रेक ले ले। जिसे आप अपने पूरे घर का काम कर ले और फिर 2 घंटे पढ़ने बैठ जाओ और कुछ देर पढ़ने के बाद थोड़ा सा ब्रेक ले फिर कुछ देर पढ़ने के बाद थोड़ा सा आप पर एक ले ले। अगर आप ऐसा करते हैं तो पूरे 24 घंटा में 8 से 10 घंटे आराम से पढ़ सकते हैं और आप अपने पूरे सप्ताह की पढ़ाई को रिकवर कर सकते हैं और उसे फिर से याद कर सकते हैं। 

जिससे आपको दो फायदे होंगे पहला फायदा आपको तो यह होगा कि आप अपनी पूरी पढ़ाई को दो बार पढ़ लेंगे और दूसरा फायदा यह होगा कि आपको सब कुछ याद रहेगा और आप से कोई पहले का भी क्वेश्चन पूछेगा तो आप तुरंत उस क्वेश्चन का जवाब देकर अपना इंप्रेशन जमा पाए। 

2. पढ़ाई करने के बाद थोड़ा सा ब्रेक ले 

आप जब भी पढ़ाई करने बैठ रहे हैं तो आप ज्यादा देर पढ़ाई करेंगे तो बोर हो जाएंगे और आप का मन पढ़ाई से भर जाएगा। इसलिए आप जब भी पढ़ाई करें तो पढ़ाई करने के दौरान हर 2 घंटे में कुछ देर का ब्रेक ले लें ताकि आप उस ब्रेक में अपना मनोरंजन कर सके और फिर पढ़ सके। आप इस बात पर ध्यान दें कि जब आप ब्रेक ले रहे हैं तो एक अलार्म लगा दे कि उतने देर के बाद आप का अलार्म बजे और आप फिर पढ़ने बैठ सके। क्योंकि जब हम मनोरंजन करते हैं तो उसमें ही व्यस्त हो जाते हैं और हम पढ़ना भूल जाते हैं। 

टाइम टेबल बनाने के बहतरीन टिप्स 

आइए हम आपको टाइम टेबल बनाने के कुछ महत्वपूर्ण टिप्स बताते हैं जिसका इस्तेमाल कर आप एक ऐसा टाइम टेबल बना सकते हैं जो बोरिंग नहीं होगा और आप उस टाइम टेबल को फॉलो करके अपने पूरे दिन में पढ़ाई के साथ-साथ मनोरंजन भी कर सकेंगे। 

  • आप अपने टाइम टेबल में पढ़ाई के साथ-साथ मनोरंजन का भी ध्यान रखें। 
  • आप जिस विषय में तेज है उस विषय में कम समय दे और जिस विषय में कमजोर है उस विषय में ज्यादा समय दे। 
  • पहले ही निश्चित कर ले कि आपको अगले दिन क्या पढना है। 
  • जब आप ब्रेक ले तो एक अलार्म लगा दे। 
  • आप अपने टाइम टेबल को अपनी रूचि के अनुसार बनाएं ताकि आप उसको फॉलो कर सके। 

टाइम टेबल बनाने के फायदे 

अब आपके दिमाग में यह बात चल रहा होगा कि हम हर दिन तो अपने काम को बिना टाइम टेबल बनाएं कर ही सकते हैं फिर हम टाइम टेबल क्यों बनाया हम क्यों नहीं बिना टाइम टेबल बनाएं ही अपना काम करें। तो आइए हम आपको नीचे बताते हैं कि टाइम टेबल के अनुसार अगर आप किसी काम को करते हैं तो आपको क्या फायदे होते हैं और आपको क्यों टाइम टेबल के अनुसार हर काम करना चाहिए। 

  • अगर आप टाइम टेबल बनाते हैं तो अपने सारे काम और पढ़ाई समय पर अच्छे से कर सकते हैं। 
  • टाइम टेबल बनाने से आप अपने समय का सही इस्तेमाल करते हैं। 
  • आप टाइम टेबल बना कर पढते हैं तो आप पर पढ़ाई का ज्यादा प्रेशर नहीं आता है और अपनी पढ़ाई आप अच्छे से पूरी कर सकते हैं। 
  • अगर आप टाइम टेबल बनाकर पढ़ते हैं तो आपको पहले ही पता रहता है कि आपको कितने देर तक पढ़ना है और क्या-क्या पढ़ना है। 

टाइम टेबल के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न

Q. क्या टाइम टेबल होना अच्छा है? 

हां क्योंकि अगर आप टाइम टेबल बनाते हैं तो अपने सारे काम समय पर कर सकते हैं। 

Q. टाइम टेबल कैसे बनाया जाता है? 

आप दिन भर में कितनी देर फ्री है और कब कौन से काम करते हैं उसके अनुसार आप अपना टाइम टेबल बना सकते हैं। 

Q. टाइम टेबल किस काम के लिए बनाया जाता है? 

आप किसी भी काम को टाइम टेबल बनाकर कर सकते हैं। 

निष्कर्ष

आज हमने आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से Time Table Kaise Banaye के बारे में पूरी जानकारी दी है। इस आर्टिकल में हमने आपको यह भी बताया है कि अगर आप स्कूल जाते हैं तो आप का टाइम टेबल कैसा होगा तो अच्छा होगा और अगर आप स्कूल नहीं जाते हैं तो आप अपना टाइम टेबल कैसे बना सकते हैं। 

उम्मीद करते हैं आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा और इसमें हमारे द्वारा दी गई सारी जानकारी आपको अच्छे से समझ में आ गई होगी। अगर आपको इस आर्टिकल में दी गई टाइम टेबल के बारे में सारी जानकारी समझ में आ गई और आपको यह आर्टिकल पसंद आया तो आप इसे अपने मित्रों के साथ साथ अपने सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें। ताकि आप से जुड़े सभी लोग अपना टाइम टेबल बना सके और अपना काम समय पर कर सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *